Breaking News

मनाया गया 27वाँ न्यूरोसर्जरी स्थापना दिवस, आई.जी.आई.एम.एस. पटना में हुआ कार्यक्रम

Adarsh Bharat Team | Nishu malik

Updated on : September 18, 2022


मनाया गया 27वाँ न्यूरोसर्जरी स्थापना दिवस, आई.जी.आई.एम.एस. पटना में हुआ कार्यक्रम


बिहार के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल, आई.जी.आई.एम.एस., पटना में 17 सितम्बर को न्यूरोसर्जरी का स्थापना दिवस मनाया गया।

 

आई.जी.आई.एम. के आदि में इसका उद्घाटन राष्ट्रीय आई.एम.ए. सहजानंद प्रसाद सिंह ने किया अपने संबो में बताया कि बिहार के लोगों के लिए यह हॉस्पीटल अपनी सेवा के लिए और मेडिकल इलाज के लिए जाना जाता है। बिहार सरकार का एक सुपरस्पेशिलिटी हॉस्पीटल लगातार गंभीर बीमारी की ईलाज में सफलता प्राप्त कर रहा है। सहजानंद सिंह के विभाग द्वारा किए जा रहे ऑपरेशन के लिए सभी डॉक्टर को बधाई दी। आईएमए भी लगाकर क्षेत्र में डॉक्टरों के योगदान के लिए कृतसंकल्प है। राष्ट्रीय अध्यक्ष का सुझाव है कि ऐसी कार्यशाला से चिकित्सा की आधुनिक विधि का आपस में ज्ञान का आदान-प्रदान

से दो में प्रगति होगी। इसके लिए आके तरफ से हरसंभव मदद की जाएगी। मुख्य अतिथि आई.जी.आई.एस.एस. केरेक्टर विभूति प्रसार में सत्कार एवं डॉक्टरों के कीना की और आगे भी मिलकर चिकित्सा के क्षेत्र में नए आयाम स्थापित करने की विभुतिक सरकार के बीच तालमेल देख कर संस्था दिन प्रतिदिन चिकित्सा के नई विधि को अपनाकर बिहार के लोगों के लिए एक उच्च संस्थान की भूमिका का पालन कर रही है। आयुष्मान एवं अनुदान के द्वारा भी कई मरीज लाभान्वित हो रहे हैं।

 

न्यूरोसर्जरी के वक्ष डॉ समरेन्द्र कुमार सिंह ने स्वागत भाषण में बताया कि विभाग ने 27 वर्षों में सर्जरी की कार्यों का प्रस्तुत किया। कवि के दौरान भी विभाग ने पूरे बिहार में सबसे ज्यादा ट्रेन ऑपरेशन किया, जब पूरी तरह से स्वास्थ्य व्यवस्था को केसे हिमाम कर रही थी। विभाग ने आधुनिक तरीकों से गंभीर बीमारी के इलाज में महत्वपूर्ण सफलता हासिल की है। सबसे बड़ी एवं बिहार के लिए की बात है कि बिहार के स्थापना के बाद पहली बार न्यूरोसर्जरी की उप शिक्षा (एम. सी. एच) की पढ़ाई आई.जी.आई.एम.एस में शुरू की गई 

इस वर्ष छात्र सफल होकर बिहार में पहली बार न्यूज को डिग्री हासिल करके न्यूरोसर्जन बने हैं।

 

इस अवसर पर अनुज सिंह, पूर्व विभागाध्यक्ष एवं डायरेक्टर सी एक एस हॉस्पीटल के यूवा के स्थापना 1995 के समय से अब तक के विकास की सराहना की न्यूरोसर्जरी विमान की स्थापना इन्होंने उस समय की जब बिहार में सर्जटी के लिए लोगों को दिल्ली ही जाना पड़ता था। 

 

इस अवसर पर महावीर कैंसर संस्थान के डायरेक्टर डॉ मनीषा सिंह ने कि शरीर के अन्य भाग के कैंसर की तरह जेल में भी कैंसर होती है ।

 

विभाग के स्थापना दिवस का मंच संचालन नीरज कन्नौजिया ने किया एवं धन्यवाद प्रजेश कुमार ने की। इस अवसर पर अयों का स्वागत ओमप्रकाश गुप्ता के द्वारा की गई। न्यूरोसर्जरी के स्थापना दिवस पर संस्थान के डॉक्टरों, कर्मचारियों एवं विभाग के डॉक्टर ब्रजेश शशील अभिनव का महत्वपूर्ण रहादिवस के अवसर पर ब्यूरोसर्जरी विभाग एवं प्रसाद वितरण भी किया। साथ ही विमान के गर्स, ओटी एवं सति पत्र भी दिया गया।

 

 



leave a comment

आज का पोल और पढ़ें...