Breaking News

किसान महापंचायतः दिल्ली में प्रदर्शन करने जा रहे किसानों को रोका तो किसानों में भी रोष

Adarsh Bharat Team | Nishu Malik

Updated on : August 22, 2022


किसान महापंचायतः दिल्ली में प्रदर्शन करने जा रहे किसानों को रोका तो किसानों में भी रोष


दिल्ली पुलिस ने राजधानी दिल्ली में प्रदर्शन करने जा रहे किसानों को रोका तो किसानों में भी रोष उत्पन्न हुआ. जिसके चलते किसानों ने दिल्ली रोहतक राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 9 पर जाम लगा दिया. राष्ट्रीय राज मार्ग पर करीब 15 मिनट तक यातायात बाधित रहा. लेकिन उसके बाद पुलिस कर्मचारियों ने समझा-बुझाकर किसानों को एक तरफ कर दिया. जिसके बाद यातायात सुचारू हो सका.

दरअसल किसान जंतर मंतर पर प्रदर्शन करने के लिए दिल्ली जा रहे हैं. ऐसे में दिल्ली पुलिस द्वारा जितने भी वाहनों में किसान सवार होकर आ रहे हैं. उन्हें रोकने का काम किया जा रहा है. दिल्ली पुलिस किसानों के किसी भी विकल को दिल्ली में एंटर नहीं करने दे रही. जिस वजह से किसानों में गुस्सा भर गया और किसानों ने दिल्ली रोहतक राष्ट्रीय राजमार्ग पर टिकरी बॉर्डर पर जाम लगा दिया. टिकरी बॉर्डर पर जाम की वजह से वाहनों की लंबी-लंबी लाइनें लग गई. बाद में पुलिस के समझाने बुझाने पर यातायात सुचारू हो सका.

किसानों का साफ तौर पर कहना है कि वह दिल्ली के रकाबगंज गुरुद्वारा और बंगला साहिब गुरुद्वारे में रात बिताकर सुबह के समय जंतर मंतर पर धरना देने के लिए आए हैं. 1 दिन का शांतिपूर्ण धरना देकर वापस चले जाएंगे. लेकिन दिल्ली पुलिस किसी भी कीमत पर किसानों को राजधानी दिल्ली में एंट्री नहीं करने देना चाहती. इसलिए दोनों के बीच टकराव हुआ और किसानों ने गुस्से में आकर टिकरी बॉर्डर पर जाम लगा दिया.

बता दें कि अभी किसानों की संख्या टिकरी बॉर्डर पर कम है. लेकिन सुबह के समय यह किसान काफी संख्या में यहां पर पहुंचने वाले हैं. ऐसे में दिल्ली पुलिस और किसानों के बीच टकराव की स्थिति देखने को मिल सकती हैं. हालांकि दिल्ली पुलिस ने एहतियातन तौर पर पहले ही लोहे और सीमेंट के बेरीकेट सड़क पर लाकर रख दिए थे. राष्ट्रीय राजमार्ग को बैरिकेड लगाकर संकरा भी किया गया है. ऐसे में अगर किसानों की तादाद बढ़ती है. तो इस नेशनल हाईवे को टिकरी बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस पूरी तरह से बंद भी कर सकती हैं.

 



leave a comment

आज का पोल और पढ़ें...